News Nation Logo

उप्र : बाढ़ व बारिश से पीड़ित किसानों को राहत, सरकार ने 2 अरब 82 करोड़ रुपये दिए

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 05 Nov 2021, 09:10:01 PM
An aerial

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

लखनऊ:   उत्तर प्रदेश सरकार ने बाढ़ और बारिश से प्रभावित किसानों को सरकार ने बड़ी राहत दी है। सरकार अभी तक बारिश से नुकसान झेल रहे आठ लाख 27 हजार 451 किसानों को अभी तक दो अरब 82 करोड़ दो लाख 57858 रुपये दे चुकी है।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि झांसी, सिद्धार्थनगर, गोरखपुर, देवरिया, बहराइच, अलीगढ़, गाजीपुर, मऊ समेत 48 जिलों के लिए 74 करोड़ 52 लाख चौरानबे हजार दो आठ रुपये की एक और किश्त जारी कर दी। सरकार प्रदेश के अन्नदाता किसानों को हर तरह से राहत देने का काम कर रही है।

पिछले दिनों बाढ़ व भारी बारिश से किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुंचा था। इसके बाद सरकार ने फसल नुकसान का आकलन कर किसानों के लिए राहत पैकेज जारी किया था। सरकार ने शुरुआत में 4,77,581 किसानों को कुल 1,59,28,97,496 रुपये (लगभग 160 करोड़ रुपये) जारी किए थे। सर्वेक्षण के बाद चिन्हित शेष 1,39,863 किसानों को कृषि निवेश अनुदान के वितरण के लिए रुपये 48,20,57,668 जारी किया गए थे।

राहत आयक्त की वेबसाइट पर तीन नवंबर तक 8,27 हजार 451 प्रभावित किसानों के लिए दो अरब बयासी करोड़ दो लाख सत्तावन हजार आठ सौ अटठावन की मांग की गई। इसके पहले 48 जनपदों के कुल छह लाख 17444 किसानों को दो अरब सात करोड़ 49 लाख 55164 की धनराशि जारी की जा चुकी है। ऐसे में सरकार ने 74 करोड 52 लाख 94208 रुपये की एक अन्य किश्त भी तीन नवंबर को जारी कर दी। शासन ने सभी जिलाधिकारियों को धनराशि जारी करने के साथ ही जल्द ही इसके वितरण की व्यवस्था को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

सितंबर और अक्टूबर की शुरुआत में हुई मूसलाधार बारिश और बाढ़ से करीब 44 जनपदों के किसानों की फसल को काफी नुकसान हुआ था। इसके बाद मुख्यमंत्री ने पीड़ित किसानों को तुरंत राहत पहुंचाने के निर्देश अधिकारियों को दिए थे। सरकार ने नुकसान की भरपाई के लिए किसानों को उचित मुआवजा देने का ऐलान किया था। सरकार ने 6 लाख से अधिक किसानों को मुआवजा दिया है। यह मुआवजा राशि जिला कोषागार से सीधे किसानों के बैंक खाते (डीबीटी) में ट्रांसफर की जा रही है। सरकार राज्य आपदा राहत कोष (एसडीआरएफ) से भी किसानों को वित्तीय सहायता दे रही है।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर बाढ़ प्रभावित जिलों में नुकसान के आकलन की प्रक्रिया तेज कर दी गई है। उन्होंने प्रदेश में बाढ़ और भारी बारिश के कारण फसल के नुकसान के आकलन के लिए सर्वेक्षण के आदेश दिए थे। बाढ़ से पूर्वाचल जिले के किसान सबसे ज्यादा प्रभावित हुए थे। मुख्यमंत्री योगी ने किसानों की समस्याओं को देखते हुए खुद बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर स्थिति का जायजा भी लिया था।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 05 Nov 2021, 09:10:01 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.