News Nation Logo
Banner
Banner

तेल, गैस के दाम बढ़ने के बाद सीएनजी, पीएनजी की कीमतों में आ सकता है उछाल

तेल, गैस के दाम बढ़ने के बाद सीएनजी, पीएनजी की कीमतों में आ सकता है उछाल

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 03 Oct 2021, 06:55:01 PM
After oil,

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: कच्चे तेल के दाम में तेजी के बाद इस साल वैश्विक गैस की कीमतें बढ़ने की उम्मीद है, जिससे भारत में उपभोक्ताओं को सीएनजी और पीएनजी की बढ़ी हुई दरों के जोखिम का सामना करना पड़ेगा।

कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज (केआईई) द्वारा किए गए गैस बाजार के आकलन के अनुसार, घरेलू गैस की कीमत वित्तवर्ष 22 की दूसरी छमाही के दौरान उपलब्ध 3.2 डॉलर/मिलियन बीटयू के मौजूदा स्तर से वित्तवर्ष 23 की पहली छमाही में दोगुने से अधिक 6.6-7.6 डॉलर/मिलियन बीटीयू हो जाने की उम्मीद है।

केआईई ने अपनी रिपोर्ट में कहा, हम घरेलू गैस की कीमत में वित्तवर्ष 23 की पहली छमाही के लिए 6.6-7.6 अमेरिकी डॉलर/मिलियन बीटीयू में भारी वृद्धि की गणना करते हैं, जो वैश्विक गैस की कीमतों में हालिया वृद्धि और आने वाले महीनों में अनुमानित उच्च फ्यूचर कर्व से प्रेरित है।

सितंबर 2021 में बेंचमार्क गैस की कीमतों में और वृद्धि हुई है- हेनरी हब गैस की कीमत अगस्त में 4.1 डॉलर/मिलियन बीटीयू से बढ़कर 5.1 डॉलर/मिलियन बीटीयू हो गई (2.6 डॉलर/मिलियन बीटीयू वित्तवर्ष 22 की पहली छमाही के लिए कीमतों की गणना में उपयोग की गई) और यूके एनबीपी 15.4 पाउंड/मिलियन बीटीयू अगस्त में 10.9 पाउंड/मिलियन बीटीयू से (5.9 पाउंड/मिलियन बीटीयू वित्तवर्ष 22 की पहली छमाही के लिए कीमतों की गणना में उपयोग किया गया)।

इसके अलावा, अलबर्टा हब गैस की कीमत भी अगस्त में 2.8 डॉलर/मिलियन बीटीयू से बढ़कर 3.1 डॉलर/मिलियन बीटीयू हो गई (2 डॉलर/मिलियन बीटीयू वित्तवर्ष 22 की दूसरी छमाही के लिए कीमतों के लिए गणना में उपयोग की जाने वाली)।

एशियाई हाजिर एलएनजी की कीमतें पिछले महीने के 16.7 डॉलर/मिलियन बीटीयू से बढ़कर 22.8 डॉलर/मिलियन बीटीयू हो गईं।

गैस की ऊंची कीमतों का मतलब उपभोक्ताओं के लिए परिवहन और खाना पकाने के ईंधन की उच्च लागत है। सितंबर में जहां सीएनजी मार्जिन स्थिर है, वहीं गैस की कीमत पर असर डालने के लिए कीमतों में 5-7 रुपये प्रति किलोग्राम की बढ़ोतरी की जरूरत है।

आईजीएल ने वित्तवर्ष 22 की दूसरी छमाही में 110 प्रतिशत सीएनजी खपत पर घरेलू गैस आवंटन की कैपिंग को देखते हुए वृद्धिशील एलएनजी की उच्च लागत को कम करने के लिए 30 अगस्त को मूल्यवृद्धि की थी, जिसका उपयोग उसे अपने सीएन सेगमेंट के लिए करना था।

केआईई ने कहा, हम नोट करते हैं कि आईजीएल और एमजीएल को 2एचएफवाई22 में उच्च घरेलू गैस की कीमत के प्रभाव को कम करने के लिए लगभग 5-7 रुपये प्रति किलोग्राम की कीमतों में बढ़ोतरी करने की आवश्यकता होगी।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 03 Oct 2021, 06:55:01 PM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो