News Nation Logo

Rupee Rate Today 12 April 2021: डॉलर के मुकाबले लुढ़का रुपया, करीब 8 महीने के निचले स्तर पर रुपया

Rupee Rate Today 12 April 2021: जानकार बताते हैं कि भारतीय रिजर्व बैंक की बॉन्ड खरीदने की योजना के कारण बीते सप्ताह रुपये में कमजोरी आई और अब शेयर बाजार में बिकवाली होने के कारण देसी करेंसी पर दबाव देखा जा रहा है.

IANS | Updated on: 12 Apr 2021, 11:40:53 AM
Rupee Rate Today 12 April 2021

Rupee Rate Today 12 April 2021 (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया चार अगस्त 2020 के बाद के निचले स्तर पर पहुंचा 
  • रिजर्व बैंक की बॉन्ड खरीदने की योजना के कारण बीते सप्ताह रुपये में कमजोरी आई 

मुंबई:

Rupee Rate Today 12 April 2021: अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में सोमवार को फिर कमजोरी आई. पिछले सत्र से 22 पैसे की कमजोरी के साथ खुलने के बाद देसी करेंसी लंबे अरसे के बाद फिर फिसलकर 75 रुपये प्रति डॉलर से नीचे आ गई है. आरंभिक कारोबार के दौरान देसी करेंसी का भाव 75.13 रुपये प्रति डॉलर तक टूटा, जो कि करीब साढ़े आठ महीने का निचला स्तर है. वहीं, दुनिया की छह मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की ताकत का सूचक डॉलर इंडेक्स बीते सत्र से 0.15 फीसदी की मजबूती के साथ 92.30 पर बना हुआ था. आईआईएफएल सिक्योरिटीज (IIFL Securities) के वाइस प्रेसीडेंट (करेंसी व एनर्जी रिसर्च) अनुज गुप्ता ने बताया, घरेलू शेयर बाजार में आई गिरावट के कारण देसी करेंसी की चाल सुस्त पड़ गई है.

यह भी पढ़ें: जोरदार गिरावट के साथ खुला बाजार, सेंसेक्स करीब 900 प्वाइंट लुढ़का

चार अगस्त 2020 के बाद के निचले स्तर पर भारतीय रुपया
उन्होंने बताया कि पिछले सप्ताह भी डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी आई. उन्होंने बताया कि डॉलर के मुकाबले रुपया चार अगस्त 2020 के बाद के निचले स्तर पर आ गया है, जब देसी करेंसी में 75.17 रुपये प्रति डॉलर पर कारोबार देखने को मिला था. गुप्ता के अनुसार, घरेलू मुद्रा में आगे 75.50 रुपये प्रति डॉलर तक का लेवल देखा जा सकता है. जानकार बताते हैं कि भारतीय रिजर्व बैंक की बॉन्ड खरीदने की योजना के कारण बीते सप्ताह रुपये में कमजोरी आई और अब शेयर बाजार में बिकवाली होने के कारण देसी करेंसी पर दबाव देखा जा रहा है.

यह भी पढ़ें: कोरोना काल में कृषि उत्पादों, वायदा में उछाल, 39 फीसदी चढ़ा एग्रीडेक्स

रुपये में कमजोरी की वजह
केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि रुपये में कमजोरी की तीन प्रमुख वजह है. पहली यह कि विदेशी संस्थागत निवेशकों की भारी बिकवाली हुई है और देश में कोरोना के बढ़ते केस से कारोबारी रुझान सुस्त पर गया है. वहीं, तीसरी वजह यह भी है कि डॉलर इंडेक्स में मजबूती आई है. उधर, देश में कोरोना का कहर लगातार गहराता जा रहा है. बीते 24 घंटे में पूरे देश में कोरोनावायरस संक्रमण के 1.69 लाख नये केस आने की रिपोर्ट है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 Apr 2021, 11:39:18 AM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.