News Nation Logo

BREAKING

Banner

किसानों के लिए खुशखबरी, आज इस बड़ी योजना की शुरुआत करने जा रहे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM KISAN) के एक साल पूरे होने के अवसर पर नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज देश भर में 10 हजार किसान उत्पादक संगठनों (FPO) की शुरुआत करेंगे.

IANS | Updated on: 29 Feb 2020, 09:45:12 AM
Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) (Photo Credit: IANS)

नई दिल्ली:

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Scheme: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM KISAN) के एक साल पूरे होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज चित्रकूट से देशभर में 10 हजार किसान उत्पादक संगठनों की शुरुआत करने जा रहे हैं. पीएम मोदी (PM Modi) ने ट्वीट किया है कि जीवंत कृषि क्षेत्र के लिये साथ आएं. चित्रकूट से आज देश भर में 10 हजार किसान उत्पादक संगठनों (Farmer Producer Organization-FPO) की शुरुआत होगी. इससे किसानों को तकनीकी, वित्तीय सहयोग एवं बाजार पहुंच सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें: PM Kisan Samman Nidhi Scheme: किसानों के लिए खुशखबरी, किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) लेना हुआ आसान

पीएम किसान योजना की पहली वर्षगांठ मनाएंगे नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि चित्रकूट में आज के कार्यक्रम में हम 'पीएम किसान योजना' की पहली वर्षगांठ मनायेंगे जिसने पिछले एक वर्ष में करोड़ों किसानों के जीवन में बदलाव लाने का काम किया. उन्होंने कहा कि हम इस बात का प्रयास कर रहे हैं कि पीएम किसान योजना के लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ भी मिले. प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में चित्रकूट से बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की आधारशिला रखने की भी जानकारी दी है. पीएम का कहना है कि यह एक्सप्रेस वे इस क्षेत्र के युवाओं के लिये प्रगति का मार्ग प्रशस्त करेगा और इस क्षेत्र में रक्षा कारिडोर में मदद करेगा.

यह भी पढ़ें: 7th Pay Commission: होली से पहले लाखों कर्मचारियों को सरकार का तोहफा, बढ़ जाएगी इतनी सैलरी

आज किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड वितरण करेंगे प्रधानमंत्री

वहीं, प्रधानमंत्री कार्यालय ने जानकारी दी है कि प्रधानमंत्री 29 फरवरी को पीएम किसान योजना के तहत सभी लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card-KCC) के वितरण का अभियान लॉन्च करेंगे. बयान में कहा गया है कि छोटे और सीमांत किसानों की संख्या लगभग 86 प्रतिशत है, जिनके पास देश में 1.1 हेक्टेयर से कम औसत खेती है। इन छोटे सीमांत और भूमिहीन किसानों को कृषि उत्पादन के दौरान भारी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. इन किसानों को अपनी आर्थिक कमजोरी के कारण अपने उत्पादों के विपणन की चुनौती का भी सामना करना पड़ता है.

यह भी पढ़ें: खुशखबरी! स्वास्थ्य की सभी समस्याओं से निपटने के लिए 1 अप्रैल से नई स्‍टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी

बयान में यह भी कहा गया है कि एफपीओ (FPO) से छोटे, सीमांत और भूमिहीन किसानों के सामूहीकरण में सहायता होगी, ताकि इन मुद्दों से निपटने में किसानों की सामूहिक शक्ति बढ़ सके. एफपीओ के सदस्य संगठन के तहत अपनी गतिविधियों का प्रबंधन कर सकेंगे, ताकि प्रौद्योगिकी, निवेश, वित्त और बाजार तक बेहतर पहुंच हो सके और उनकी आजीविका तेजी से बढ़ सके. मोदी सरकार (Modi Government) ने किसानों के आय समर्थन के रूप में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान- योजना) को लॉन्च किया था, ताकि किसानों को कृषि, संबंधित गतिविधियों और घरेलू आवश्यकताओं का खर्च वहन करने में सहायता हो सके.

यह भी पढ़ें: रोजाना सिर्फ 100 रुपये बचाकर बन सकते हैं करोड़पति (Crorepati), जानिए क्या है फॉर्मूला

लाभार्थियों को मिलते हैं हर साल 6 हजार रुपये

योजना के तहत हर योग्य लाभार्थी को प्रति वर्ष 6000 रुपये की धनराशि दी जाती है. यह धनराशि दो-दो हजार रुपये के रूप में तीन बार चार माह की किस्तों में दी जाती है. यह भुगतान प्रत्यक्ष लाभ अंतरण प्रणाली के तहत योग्य लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे ऑनलाइन भेजी जाती है. गौरतलब है कि पीएम किसान योजना के तहत लगभग 8.5 करोड़ लाभार्थियों में से 6.5 करोड़ से अधिक किसानों के पास किसान क्रेडिट कार्ड हैं. इस अभियान से यह सुनिश्चित होगा कि लगभग दो करोड़ पीएम किसान लाभार्थियों को भी किसान क्रेडिट कार्ड वितरित कर दिए जाएं.

First Published : 29 Feb 2020, 09:45:12 AM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×