News Nation Logo
Banner

तमाम आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता पर सरकार की नजर, राम विलास पासवान का बयान

पासवान ने एक ट्वीट के जरिए कहा कि कोरोना (कोविड-19) के खतरे से उत्पन्न स्थिति में तमाम आवश्यक वस्तुओं की बाजार में उपलब्धता पर सरकार की लगातार नजर बनी हुई है और केंद्र सरकार सभी राज्य सरकारों के संपर्क है ताकि कहीं भी किसी चीज की किल्लत न हो.

IANS | Updated on: 25 Mar 2020, 11:12:45 AM
Ram Vilas Paswan

राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) (Photo Credit: IANS)

नई दिल्ली:

केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने बुधवार को कहा कि कोरोनावायरस (Coranavirus) के प्रकोप के चलते उत्पन्न स्थिति में तमाम आवश्यक वस्तुओं की बाजार में उपलब्धता लगातार बनाए रखने पर मोदी सरकार (Modi Government) की नजर है और ऐसी किसी भी चीज की किल्लत नहीं हो इसके लिए राज्य सरकारों से संपर्क बनी हुई है.

यह भी पढ़ें: राष्ट्रव्यापी बंदी के दौरान इन संस्थाओं में होता रहेगा कामकाज, सेबी (SEBI) ने दिया बड़ा बयान

आवश्यक वस्तुओं पर सरकार की नजर

पासवान ने एक ट्वीट के जरिए कहा कि कोरोना (कोविड-19) के खतरे से उत्पन्न स्थिति में तमाम आवश्यक वस्तुओं की बाजार में उपलब्धता पर सरकार की लगातार नजर बनी हुई है और केंद्र सरकार सभी राज्य सरकारों के संपर्क है ताकि कहीं भी किसी चीज की किल्लत न हो. सभी उत्पादकों और व्यापारियों से भी अपील है कि इस घड़ी में मुनाफाखोरी से बचें. कोरोनावायरस के प्रकोप से बचने के उपायों के तहत देशभर में पूर्ण लॉकडाउन (Nationwide Lockdown) है और लोगों के घरों से निकलने पर पाबंदी है, लेकिन सरकार ने कहा है कि इस दौरान सभी आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता बनी रहेगी.

यह भी पढ़ें: छोटे कारोबारियों के लिए बड़ी मुसीबत बना कोरोना वायरस, इन परेशानियों का करना पड़ रहा है सामना

देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकारों से खाद्य पदार्थ और अन्य आवश्यक सामान की कमी के बारे में फैल रही अफवाहों पर अंकुश लगाने की खातिर कदम उठाने के लिए कहा है। सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और डीजीपी को भेजे पत्र में मंत्रालय ने उनसे आशंकाओं को दूर करने और शांति एवं सामंजस्य बनाए रखने के लिए कार्रवाई करने तथा लोगों को खाद्य पदार्थ, दवाओं और अन्य आवश्यक सामान की उपलब्धता के बारे में सूचित करने के लिए कहा है. मंत्रालय ने कहा कि आपदा प्रबंधन कानून, 2005 (बंद के लिए) के तहत जारी आदेश के मद्देनजर खाद्य तथा अन्य आवश्यक सेवाओं एवं सामान के अभाव समेत अन्य अफवाहें फैलने की आशंका है. पत्र में कहा गया है, ‘‘इस संदर्भ में यह आवश्यक है कि सभी राज्य सरकार और केंद्र शासित प्रशासन सभी उपलब्ध माध्यमों के जरिए यह प्रचारित करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं कि खाद्य पदार्थ, सामान और अन्य आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति बरकरार रहेगी और देश में पर्याप्त सामान उपलब्ध हैं.

First Published : 25 Mar 2020, 11:08:28 AM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×