News Nation Logo

खुशखबरी, सीएनजी (CNG) और पीएनजी (PNG) के दामों में भारी कटौती का ऐलान

दिल्ली में सीएनजी (CNG) की कीमतों में 3.20 रूपते प्रति किलो की कटौती की गई है. दिल्ली में सीएनजी की नई कीमत 42 रुपये प्रति किलो हो गई है. वहीं दूसरी ओर नोएडा, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में 3.60 रुपये प्रति किलो की कमी की गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 03 Apr 2020, 08:51:54 AM
Indraprastha Gas Limited IGL

इंद्रप्रस्थ गैस (Indraprastha Gas Limited-IGL) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

इंद्रप्रस्थ गैस (Indraprastha Gas Limited-IGL) ने सीएनजी (CNG) और पीएनजी (PNG) के दामों में भारी कटौती का ऐलान किया है. दिल्ली में सीएनजी की कीमतों में 3.20 रूपते प्रति किलो की कटौती की गई है. दिल्ली में सीएनजी की नई कीमत 42 रुपये प्रति किलो हो गई है. वहीं दूसरी ओर नोएडा, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में 3.60 रुपये प्रति किलो की कमी की गई है. नोएडा, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में सीएनजी 47.75 रुपये प्रति किलो नई कीमत पर मिल रही है. कटौती के बाद आज से नई कीमतें लागू हो चुकी हैं.

यह भी पढ़ें: Gold Silver Today: MCX पर सोने-चांदी में ट्रेडिंग से मिलेगा बड़ा मुनाफा, देखें आज की टॉप ट्रेडिंग कॉल्स

पीएनजी के दाम में भी कटौती

पीएनजी की कीमतों में भी कटौती 1.55 रुपये प्रति यूनिट की कमी की गई है. दिल्ली में नई कीमत 28.55 रुपये प्रति यूनिट हो गई है. नोएडा, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में पीएनजी में 1.65 रुपये प्रति यूनिट की कमी कर दी गई है. नोएडा, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में नई कीमत 28.45 रुपये प्रति यूनिट हो गई है. बता दें कि घरेलू गैस के दामों में कटौती के फैसले बाद सीएनजी और पीएनजी सस्ता हुआ है.

यह भी पढ़ें: आम आदमी को लगा बड़ा झटका, पेट्रोल और डीजल 1 रुपये हुआ महंगा, देखें पूरी लिस्ट

दूसरी ओर देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन आयल कॉरपोरेशन (IOC) ने कहा है कि देश में अप्रैल 2020 से बीएस-6 (BS-6) ईंधन की आपूर्ति शुरू हो गई है लेकिन यह काम पेट्रोल, डीजल (Petrol Diesel) के दाम बढ़ाए बिना हुआ है. तेल कंपनी ने कहा है कि महाराष्ट्र, कर्नाटक और पश्चिम बंगाल जैसे कुछ राज्यों में एक अप्रैल से पेट्रोल, डीजल के दाम जो वृद्धि हुई है वह इन राज्यों में राज्य बिक्री कर अथवा मूल्य वर्धित कर (वैट) दर बढ़ने की वजह से हुई है. भारत बीएस-4 मानक से सीधे बीएस-6 मानक के ईंधन की ओर बढ़ा है. यह यूरो-6 पेट्रोल और डीजल ईंधन के समकक्ष है. बीएस-6 मानक का स्वच्छ ईंधन तैयार करने पर तेल कंपनियों की लागत एक रुपये प्रति लीटर बढ़ी है लेकिन पेट्रोलियम कंपनियों ने इसका बोझ उपभोक्ताओं पर डालने के बजाय इसे अंतररष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में आई गिरावट में समायोजित किया है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम इस समय 17 साल के निचले स्तर पर आ गए हैं.

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 03 Apr 2020, 08:51:54 AM