News Nation Logo

Union Budget 2021-22: बजट से पहले अर्थशास्त्रियों के साथ वित्त मंत्री की अहम बैठक

Union Budget 2021-22: 1 फरवरी, 2021 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) अगला बजट पेश करेंगी. उन्होंने कहा कि आजीविका एक बड़ी चुनौती है और इस मामले में उद्योग जगत को अपनी राय देनी ही चाहिए.

Written By : बिजनेस डेस्क | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 19 Dec 2020, 04:35:42 PM
Union Budget 2021-22: Nirmala Sithraman

Union Budget 2021-22: Nirmala Sithraman (Photo Credit: ANI )

नई दिल्ली :

Union Budget 2021-22: वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने आज आगामी बजट के लिए देश के प्रमुख अर्थशास्त्रियों (Economists) के साथ विचार विमर्श किया. बता दें कि 1 फरवरी, 2021 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) अगला बजट पेश करेंगी.

यह भी पढ़ें: किसानों के आंदोलन के बावजूद बढ़ गया रबी फसल का रकबा, जानिए कितनी बढ़ी बुवाई

कोरोना से चरमराई अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने के लिए करेंगे प्रयास
वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कहा है कि सरकार विभिन्न क्षेत्रों में विकास के लिए उद्योगों की ओर से बड़े विचारों की ओर देख रही है, ताकि वह इस बार का बजट ऐसा बजट बना सकें, जैसा पहले कभी नहीं बना होगा. केंद्र सरकार महामारी से चरमराई अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने और विकास को गति देने के लिए तत्पर है और यही वजह है कि वित्त मंत्री ने इस बार का बजट 'अभूतपूर्व होने की बात कही है.

यह भी पढ़ें: CryptoCurrency के ट्रेडिंग वॉल्यूम में भारी उछाल, सरकार प्रतिबंध लगाने के लिए ला सकती है नया कानून

बजट वैश्विक विकास और आर्थिक पुनरुत्थान के लिए इंजन के रूप में उभरने में करेगा मदद 
सीआईआई पार्टनरशिप समिट 2020 में बोलते हुए, सीतारमण ने कहा कि अगला केंद्रीय बजट भारत को वैश्विक विकास और आर्थिक पुनरुत्थान के लिए इंजन के रूप में उभरने में मदद करेगा. मंत्री ने कहा कि निकट भविष्य में स्वास्थ्य और निवेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता होगी. वित्त मंत्री ने कहा कि विकास को पटरी पर लाने के लिए उन क्षेत्रों के लिए समर्थन बढ़ाना चाहिए, जो कोविड-19 महामारी के चलते बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और साथ ही ऐस क्षेत्र जो आगे वृद्धि के वाहक बन सकते हैं. उन्होंने कहा कि टेलीमेडिसिन को समझने के लिए व्यापक कौशल की जररूत होगी. उन्होंने यह भी कहा कि आजीविका एक बड़ी चुनौती है और इस मामले में उद्योग जगत को अपनी राय देनी ही चाहिए.

First Published : 19 Dec 2020, 04:33:28 PM

For all the Latest Business News, Budget News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.