News Nation Logo
कश्मीर में हो रहीं हत्याएं दुखद, हम निंदा करते हैं: राजीव शुक्ला महंत नरेंद्र गिरि मौत मामले में कोर्ट ने तीनों आरोपियों की 12 दिन तक बढ़ाई न्यायिक हिरासत पीएम नरेंद्र मोदी 20 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे घर में घुसकर गरीब लोगों की हत्या करना दुर्भाग्यपूर्ण है। आतंकियों की यह कायराना हरकत है: सुशील मोदी आतंकियों की मंशा लोगों में डर पैदा करने की है, जिससे लोग कश्मीर छोड़कर चले जाएं: सुशील मोदी उत्तराखंड: बद्रीनाथ धाम में शुरू हुआ सीजन का पहला हिमपात। धाम में पड़ रही कड़ाके की ठंड। राम रहीम को रंजीत सिंह हत्या मामले में उम्रकैद की सजा पंचकूला की CBI अदालत ने सजा का ऐलान किया अन्य 4 दोषियों पर 50-50 हजार रुपए का जुर्माना अदालत ने राम रहीम पर 31 लाख का जुर्माना भी लगाया लंबी लड़ाई के बाद पीड़ित परिवार को मिला इंसाफ डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के साथ 5 लोगों को उम्र कैद पंजाब: जालंधर-फगवाड़ा हाईवे पर धनोवाली में एक तेज रफ़्तार गाड़ी ने 2 युवतियों को कुचला देश में अब तक कोविड वैक्सीन की 98 करोड़ डोज़ लगाई गई है: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया आंतरिक सुरक्षा पर राज्यों के IG और DGP के साथ आज अमित शाह की बैठक कश्मीर में एक और आतंकी साजिश का अलर्ट, सुरक्षा बढ़ाई गई दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने “रेड लाईट ऑन, गाड़ी ऑफ” अभियान की शुरुआत की पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में कैबिनेट की बैठक हुई महाराष्ट्रः कल्याण की आधारवाड़ी जेल में 20 कैदी कोरोना पॉजिटिव आर्यन खान पर NCB का बड़ा बयान, आर्यन की काउंसिलिंग की गई आर्यन ने दोबारा गलती न करने की बात कही: NCB रिहाई के बाद गरीबों के लिए काम करेंगे आर्यन खान: NCB कांग्रेस सिर्फ एक परिवार की पार्टी है: संबित पात्रा कश्मीर पर कांग्रेस भ्रम फैला रही है: संबित पात्रा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं से सावधानी बरतने की अपील की भाजपा कार्यालय में हो रही राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक का पहला चरण खत्म किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर मोदी नगर (उ.प्र.) में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी ISI Chief पर बीवी के टोटके पर अड़े इमरान, पाक सेना के जनरल ने लगाई लताड़ संयुक्त किसान मोर्चा के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर प्रदर्शनकारी बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर बैठे दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी बारिश का दौर जारी. जगह-जगह जलभराव

यस बैंक को सरकारी नियंत्रण में लेना चाहिए, जनता का पैसा लूट के लिए नहीं : AIBEA

यस बैंक- एआईबीईए

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 07 Mar 2020, 10:31:46 PM
Yes Bank

यस बैंक (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्ली:

यस बैंक संकट (Yes Bank Crisis) के बीच अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (AIBEA) ने शनिवार को कहा कि रिजर्व बैंक को जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए और सरकार को सभी निजी बैंकों का नियंत्रण अपने हाथ में ले लेना चाहिए. बैंक यूनियनों के संगठन एआईबीईए ने कहा कि बैंकों पर जनता की मेहनत की कमाई और बचत के प्रबंधन की जिम्मेदारी होती है. ‘यदि कोई बैंक इसे ठीक से नहीं संभालता या कुप्रबंधन करता है तो उसके उन शीर्ष अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक कार्रवाई की जानी चाहिए जो इसके जिम्मेदार हैं. उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए.’ एआईबीईए (AIBEA) ने एक बयान में कहा कि उन्हें ऐसा ही खुला नहीं छोड़ देना चाहिए.

संगठन के महासचिव सी. एच. वेंकटचलम ने कहा, ‘इसी के साथ बैंक के ग्राहकों और जमाकर्ताओं के हितों की सुरक्षा के लिए यस बैंक को तत्काल सरकार के नियंत्रण में लाया जाना चाहिए. एक-एक करके निजी बैंक विफल हो रहे हैं जिनका सरकार ने बहुत गुणगान किया था. यह वह समय है जब सरकार को फिर से 1969 के घटनाक्रम को दोहराने की जरूरतहै. सरकार को सभी निजी बैंकों को सार्वजनिक नियंत्रण में लाना चाहिए.’ एआईबीईए ने कहा कि लोगों का पैसा लोगों के कल्याण में इस्तेमाल होना चाहिए ना कि निजी लूट के लिए.

यह भी पढ़ें-Delhi Riots: पुलिस की आंतरिक रिपोर्ट में कपिल मिश्रा और चंद्रशेखर भी जांच के घेरे में

रिजर्व बैंक ने यस बैंक पर लगाई है रोक
उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने यस बैंक पर तीन अप्रैल तक रोक लगाने के साथ उसके निदेशक मंडल को भी तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है. साथ ही प्रत्येक खाताधारक को महीने में 50,000 रुपये तक निकासी करने की ही अनुमति दी है. एआईबीईए ने कहा कि पिछले महीने संसद में पेश की गयी आर्थिक समीक्षा में मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम ने कहा था कि सरकारी बैंक में यदि एक रुपया निवेश किया जाता है जो उसका परिणाम 23 पैसे के नुकसान के रूप में सामने आता है. जबकि निजी बैंक में यह निवेश करने से 9.6 पैसे की वृद्धि होती है.

यह भी पढ़ें-Delhi Violence: क्राइम ब्रांच ने लियाकत और तारिक रिजवी को गिरफ्तार, ताहिर से जुड़े हैं तार

यस बैंक में थी कई परेशानियां
संगठन ने कहा, ‘इसका आशय यह है कि सरकार खुद इस बात पर जोर दे रही है कि निजी क्षेत्र के बैंक सरकारी बैंकों की अपेक्षा ज्यादा क्षमतावान हैं. सरकारी बैंक बेकार हैं और नुकसान कर रहे हैं.’ एआईबीईए ने कहा कि अब यस बैंक की क्षमता कहां गयी? अब खबरें हैं कि जनहित में रिजर्व बैंक ने यस बैंक के कामकाज पर रोक लगा दी है. संगठन ने कहा, ‘असल में यस बैंक कई परेशानियों से ग्रस्त था. इसमें सूचना को सार्वजनिक ना करना, पूंजी का अपर्याप्त होना और फंसे कर्ज का बढ़ते जाना शामिल है. लेकिन रिजर्व बैंक ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की और समय देता रहा.

यह भी पढ़ें-24 मार्च को भगवान राम को तंबू से निकलकर फाइवर के मंदिर में ले जाया जाएगा

ऑडिट रिपोर्ट में बार-बार आ रहीं थी खामियां
अब जब बहुत नुकसान हो चुका है तो उसने बैंक के कामकाज पर रोक लगा दी है और इसे लेकर खाताधारकों के बीच चिंता का माहौल है.’ संगठन ने कहा कि बार बार आडिट रिपोर्ट में यस बैंक की खामियां उजागर किये जाने के बावजूद रिजर्व बेंक ने कोई कदम नहीं उठाया और अंत में यह स्थिति सामने आई. ‘सरकार को रिजर्व बैंक को जवाबदेह ठहराना चाहिये.’

First Published : 07 Mar 2020, 10:31:46 PM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.