News Nation Logo
Banner

यस बैंक (Yes Bank) के ग्राहकों के लिए राहत भरी खबर, दूसरे बैंक अकाउंट से कर सकते हैं क्रेडिट कार्ड का भुगतान

यस बैंक (Yes Bank) ने ट्वीट किया है कि आईएमपीएस/एनईएफटी सेवाएं अब बहाल हो गई हैं. बैंक ने कहा कि आप दूसरे बैंक खातों से यस बैंक के क्रेडिट कार्य बकाए और ऋण देनदारियों का भुगतान कर सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 11 Mar 2020, 10:54:46 AM
yes bank

यस बैंक (Yes Bank) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Yes Bank Crisis: संकटग्रस्त यस बैंक (Yes Bank) ने कहा है कि उसके ग्राहक अपने क्रेडिट कार्ड (Credit Card) और ऋणों का भुगतान अन्य बैंक खातों के माध्यम से कर सकते हैं. इससे पहले नकदी संकट के चलते रिजर्व बैंक (Reserve Bank-RBI) ने उसके कामकाज पर रोक लगा दी थी. बैंक के कामकाज पर रोक के बाद एटीएम और बैंक की शाखाओं के सामने पैसे निकालने के लिए लंबी-लंबी कतारें देखी गईं थीं.

यह भी पढ़ें: यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) के इस फैसले से सस्ता हो जाएगा होम, ऑटो और पर्सनल लोन

यस बैंक की IMPS/NEFT सेवाएं बहाल

ग्राहक इंटरनेट बैंकिंग और डिजिटल भुगतान जैसे अन्य प्लेटफार्म के जरिए भी पैसे नहीं निकाल पा रहे थे. इसके अलावा विदेशी मुद्रा सेवाएं और क्रेडिट कार्ड सेवाएं भी प्रभावित हुईं. यस बैंक ने ट्वीट किया है, “आईएमपीएस/एनईएफटी सेवाएं अब बहाल हो गई हैं.” बैंक ने कहा कि आप दूसरे बैंक खातों से यस बैंक के क्रेडिट कार्य बकाए और ऋण देनदारियों का भुगतान कर सकते हैं. बैंक ने कहा है कि उसके एटीएम भी पूरी तरह काम कर रहे हैं और ग्राहक निर्धारित राशि निकाल सकते हैं.

यह भी पढ़ें: दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी सऊदी अरामको (Saudi Aramco) बढ़ाएगी कच्चे तेल की सप्लाई

राणा कपूर ने 4,300 करोड़ रुपये का कालाधन अर्जित किया: ED

यस बैंक (Yes Bank) के संस्थापक राणा कपूर (Rana Kapoor) की हिरासत की मांग करते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अपनी दलील में बताया कि प्रथम दृष्ट्या जांच में जो बात सामने आई है, उसके अनुसार 4,300 करोड़ रुपये का कालाधन अर्जित करके उसका शोधन करने में कपूर शामिल हैं. सूत्रों ने बताया कि कपूर और अन्य आरोपियों ने कालाधन (Black Money) लेकर उसे सफेद घोषित करने के लिए छिपाकर रखा और ईडी के जासूसों द्वारा धन की इस हेराफेरी की जांच जारी है, जिसके लिए हिरासत में कपूर की पूछताछ की आवश्यकता है.

यह भी पढ़ें: Crude Price War: ओपेक के साथ रिश्तों को लेकर रूस के ऊर्जा मंत्री ने दिया बड़ा बयान

साथ ही यह भी खुलासा हुआ कि डीएचएफएल (DHFL) ने कपूर की बेटियां रोशनी कपूर, राधा कपूर-खन्ना और राखी कपूर-टंडन द्वारा संचालित डीयूवीआईपीएल को 600 करोड़ रुपये का कर्ज दिया था. डीयूवीआईपीएल में कपूर की तीनों बेटियों की 100 फीसदी हिस्सेदारी है. (इनपुट भाषा)

First Published : 11 Mar 2020, 10:51:41 AM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.