News Nation Logo
Banner

SBI ने फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) को लेकर किया बड़ा फैसला

स्टेट बैंक (SBI) ने 2 साल से कम के टर्म डिपॉजिट दरों को 0.10 फीसदी घटाकर 6.8 फीसदी से 6.7 फीसदी कर दिया है. SBI की नई दरें 26 अगस्त से लागू होंगी.

By : Dhirendra Kumar | Updated on: 24 Aug 2019, 09:38:22 AM
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) - फाइल फोटो

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) - फाइल फोटो

नई दिल्ली:

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) की ब्याज दरों को लेकर बड़ा फैसला किया है. दरअसल, SBI ने घरेलू खुदरा फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) की ब्याज दरों में 0.10 फीसदी की कटौती कर दी है. स्टेट बैंक (SBI) ने 2 साल से कम के टर्म डिपॉजिट दरों को 0.10 फीसदी घटाकर 6.8 फीसदी से 6.7 फीसदी कर दिया है. SBI की नई दरें 26 अगस्त से लागू होंगी.

यह भी पढ़ें: ​​​​​Petrol Diesel Price: पेट्रोल और डीजल हुआ महंगा, फटाफट जानिए नए रेट

SBI ने कार लोन से प्रोसेसिंग चार्ज को हटाया
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने 42 करोड़ ग्राहकों को जबर्दस्त तोहफा दिया है. दरअसल, SBI ने कार लोन से प्रोसेसिंग चार्ज (Processing Fess) को पूरी तरह से हटा दिया है. प्रोसेसिंग चार्ज हटने से SBI से ऑटो लोन (Auto Loan) लेने वाले ग्राहकों से कोई भी प्रोसेसिंग चार्ज नहीं लिया जाएगा. SBI ने पर्सनल लोन (Personal Loan) और एजुकेशन लोन (Education Loan) के रीपेमेंट की अवधि (Repayment Tenure) को भी बढ़ा दिया है. इस फैसले के बाद ग्राहक अब स्टेट बैंक से 6 साल के लिए पर्सनल लोन ले सकेंगे.

यह भी पढ़ें: साल की दूसरी छमाही में चीन घरेलू बाजार को मजबूत बनाएगा, जानें कैसे

SBI ने रीपेमेंट की अवधि बढ़ाई
बैंक ने पर्सनल लोन के लिए रीपेमेंट की अवधि (Repayment Tenure) को बढ़ाकर 6 साल कर दिया है. मतलब अब ग्राहक 6 साल के लिए पर्सनल लोन ले सकेंगे. टेन्योर बढ़ने से EMI कम हो जाएगी. वहीं एजुकेशन लोन के लिए रीपेमेंट की अवधि की बढ़ाकर 15 साल कर दिया है.

First Published : 24 Aug 2019, 09:38:22 AM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×