News Nation Logo
Banner

SBI के करोड़ों ग्राहकों को लगा बड़ा झटका, फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) को लेकर लिया ये फैसला

एसबीआई (State Bank Of India-SBI) ने फिक्सड डिपॉजिट (FD) की दरों में 0.15 प्रतिशत की कमी कर दी हैं. बैंक की FD की नई दरें 10 जनवरी से प्रभाव में आ गयी हैं.

Bhasha | Updated on: 15 Jan 2020, 10:21:28 AM
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India)

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India) (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुंबई:

देश के सबसे बड़े बैंक सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India) के ग्राहकों के लिए बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है. दरअसल, SBI ने कुछ-कुछ अवधि की खुदरा मियादी जमाओं (Fixed Deposit-FD) पर ब्याज दर में कटौती का फैसला किया है. एसबीआई ने फिक्सड डिपॉजिट की दरों में 0.15 प्रतिशत की कमी कर दी हैं. बैंक की FD की नई दरें 10 जनवरी से प्रभाव में आ गयी हैं. बैंक ने 7 दिन से लेकर एक साल तक एफडी पर मिलने वाले ब्याज दर में कोई भी बदलाव नहीं किया है.

यह भी पढ़ें: Gold Rate Today 15 Jan: MCX पर आज सोना-चांदी खरीदें या बेचें, जानिए टॉप ट्रेडिंग कॉल्स

SBI की फिक्स्ड डिपॉजिट की दरें
स्टेट बैंक (SBI) ने दो करोड़ रुपये से कम की दीर्घकालिक जमाओं पर ब्याज दर घटाई हैं. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार बैंक ने एक साल से 10 साल की अवधि के मियादी जमाओं पर ब्याज दर 6.25 प्रतिशत से कम कर 6.10 प्रतिशत कर दिया है. सात दिन से लेकर 45 दिनों और 46 दिनों से 179 दिनों की अवधि की मियादी जमा राशि (FD) पर बैंक क्रमश: 4.50 प्रतिशत और 5.50 प्रतिशत ब्याज देगा. वहीं 180 दिन से एक साल की कम अवधि की मियादी जमा पर ग्राहकों को 5.80 प्रतिशत ब्याज मिलेगा. बता दें कि बैंक वरिष्ठ नागरिकों को 0.50 प्रतिशत अधिक ब्याज देता है. इस हिसाब से उनके लिए एक साल से 10 साल की अवधि की मियादी जमा राशि पर ब्याज 6.60 प्रतिशत होगा.

यह भी पढ़ें: इंडस्ट्री ने पाम ऑयल इंपोर्ट की सीमा तय करने की मांग की

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) ने MCLR घटाया
यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (United Bank Of India-UBI) ने लोन की दरों (MCLR) को कम करके ग्राहकों को सस्ती EMI का तोहफा दे दिया है. UBI के इस कदम के बाद ग्राहकों को UBI के होम (Home), ऑटो (Auto) और पर्सनल लोन (Personal Loan) के लिए कम ब्याज चुकाना होगा. दरअसल, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) ने विभिन्न परिपक्वता अवधि के कर्ज पर कोष की सीमान्त लागत (MCLR) आधारित ब्याज दर को 0.10 प्रतिशत कम कर दिया है.

यह भी पढ़ें: सरकार के स्टॉक में सड़ रहा है प्याज, राम विलास पासवान का बड़ा बयान

बैंक द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक ने यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया ने सभी परिपक्वता अवधि के लिए एमसीएलआर आधारित दर में 0.10 प्रतिशत की कटौती की है. नई दरें 11 जनवरी (शनिवार) 2020 से लागू हो चुकी हैं. एक वर्ष की अवधि के कर्ज के लिए एमसीएलआर दर 8.10 प्रतिशत होगी.

First Published : 15 Jan 2020, 10:20:49 AM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×