News Nation Logo
बाबुल सुप्रियो का संसद की सदस्यता से इस्तीफा मंजूर दिल्ली के सदर बाजार में आज आतंकी हमलों को लेकर मॉक ड्रिल की गई T20 World Cup: साउथ अफ्रीका ने वेस्टइंडीज को 8 विकेट से हराया चाहें तो गोली मरवा सकते हैं और कुछ नहीं कर सकते: लालू प्रसाद यादव के बयान पर नीतीश कुमार आर्यन खान की जमानत पर बॉम्बे हाईकोर्ट में कल फिर होगी सुनवाई बिजनेस के सिलसिले में उनसे बातचीत होती थी: हैनिक बाफना प्रभाकर ने मेरा नाम क्यों लिया मैं नहीं जानता: हैनिक बाफना भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी आर्यन खान की ओर से कर रहे हैं दलील पेश प्रभाकर को अच्छी तरह जानता हूं: हैनिक बाफना मेरे खिलाफ कोई सुबूत नहीं: हैनिक बाफना अगर सुबूत है तो प्रभाकर लाकर दिखाएं: हैनिक बाफना टीम इंडिया के मुख्य कोच पद के लिए राहुल द्रविड़ ने किया आवेदन वीवीएस लक्ष्मण के NCA में पदभार संभालने की संभावना आर्यन खान के वकील ने HC में दाखिल किया हलफनामा HC में आर्यन खान की जमानत याचिका पर सुनवाई शुरू पश्चिम बंगाल में तंबाकू और निकोटिन वाले गुटखा-पान मसाला एक साल के लिए बैन कोवैक्सीन को मिल सकती है अंतरराष्ट्रीय मंजूरी, डब्ल्यूएचओ की बैठक आज उमर मलिक के बेटे पर यूपी सरकार कसेगी शिकंजा, एडमिशन के नाम पर रेस का आरोप पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कल प्रेसवार्ता कर नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं अरविंद केजरीवाल का ऐलान - यूपी में सरकार बनी तो मुफ्त में अयोध्या की तीर्थ यात्रा कराएंगे

Yes बैंक के ग्राहकों के लिए बड़ी खबर- अब बिना लिमिट 18 मार्च से निकाल सकेंगे पैसा

रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने कहा कि बुधवार से यस बैंक से कैश निकालने की सीमा को खत्म कर दिया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 16 Mar 2020, 11:56:53 PM
yes bank

Yes Bank (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने कहा कि बुधवार से यस बैंक (Yes Bank) से कैश निकालने की सीमा को खत्म कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि यस बैंक के मामले में रिजर्व बैंक और सरकार ने सही कदम उठाया है. उन्होंने कहा कि यस बैंक के खाताधारकों का पैसा पूरी तरह से सुरक्षित है. 26 मार्च से यस बैंक का नया बोर्ड कामकाज संभाल लेगा. उन्होंने कहा कि भारतीय बैंकिंग सेक्टर पूरी तरह से सुरक्षित है.

यह भी पढ़ेंःAGR मामले में DoT ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की अर्जी, कर्ज चुकाने के लिए मांगा इतने साल का समय

रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने कहा कि येस बैंक (Yes Bank) के ग्राहकों को राहत देने के लिए बड़ी तेजी से काम किया जा रहा है. येस बैंक से पैसा निकालने के लिए लगाई गई रोक बुधवार से हटा दी जाएगी. यानी अब ग्राहक अपने खातों से 50 हजार रुपये से अधिक निकाल सकेंगे. ये पाबंदी बुधवार की शाम छह बजे समाप्त हो जाएगी. आरबीआई गर्वनर ने यह भी कहा कि भारतीय इकोनॉमी ग्रोथ को कोरोना वायरस (Corona Virus) से बड़ा झटका लगेगा.

रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि बुधवार से यस बैंक से कैश निकालने की सीमा को खत्म कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि यस बैंक के मामले में रिजर्व बैंक और सरकार ने सही कदम उठाया है. उन्होंने कहा कि यस बैंक के खाताधारकों का पैसा पूरी तरह से सुरक्षित है. 26 मार्च से यस बैंक का नया बोर्ड कामकाज संभाल लेगा. उन्होंने कहा कि भारतीय बैंकिंग सेक्टर पूरी तरह से सुरक्षित है.

ग्लोबल फाइनेंशियल मार्केट पर कोरोना वायरस का नकारात्मक असर

शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से दुनियाभर के वित्तीय बाजारों पर नकारात्मक असर पड़ा है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायस मानवीय त्रासदी बनता जा रहा है. वायरस ने कई देशों को अपने चपेट में ले लिया है. इस वायरस का दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं पर असर पड़ा है और भारतीय अर्थव्यवस्था भी इससे अछूता नहीं है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से भारत के ग्रोथ में धीमापन संभव है. वायरस का टूरिज्म और एविएशन सेक्टर पर ज्यादा असर पड़ा है. उनका कहना है कि ग्लोबल इकोनॉमिक ग्रोथ 0.4-1.5 फीसदी तक घट सकती है.

यह भी पढ़ेंःCorona Virus को लेकर JNU प्रशासन ने जारी किया नोटिस- छात्र खाली करें हॉस्टल और शिक्षक...

अमेरिकी फेडरल रिजर्व (Federal Reserve) समेत दुनिया के कई सेंट्रल बैंक दरों में कर रहे कटौती

अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व (Federal Reserve) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) से अर्थव्यवस्था (Economy) पर पड़ने वाले असर को दूर करने तथा निवेशकों का भरोसा कायम रखने के लिये रविवार को नीतिगत ब्याज दर (Interest Rate) में एक प्रतिशत की बड़ी कटौती कर के इसे करीब करीब शून्य प्रतिशत कर दिया है. इसके अलावा उसने 700 अरब डॉलर के बॉन्ड खरीदने का भी निर्णय लिया है.

फेडरल रिजर्व अल्पकालिक धन के लिए ब्याज दर अब 0-0.25% के स्तर पर आ गयी है. अमेरिका दो सप्ताह में नीतिगत ब्याज दरों में कुल मिला कर डेढ़ प्रतिशत की कमी करने के साथ ऋण के लिए धन की उपलब्धता बढाने के कई उपाय कर चुका है. फेड के अलावा इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और यूरोपीय यूनियन भी ब्याज दरों में कटौती करने की राह पर चल रहे हैं.

First Published : 16 Mar 2020, 05:28:52 PM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.