News Nation Logo
Banner

इस सहकारी बैंक पर भी छाया संकट, RBI ने पैसे निकालने पर लगाई पाबंदी

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India-RBI) ने मंता अर्बन कोआपरेटिव बैंक (Mantha Urban Co Operative Bank) पर धन के भुगतान और कर्ज के लेन देन को लेकर 6 महीने के लिए पाबंदी लगा दी है.

Written By : बिजनेस डेस्क | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 18 Nov 2020, 08:33:07 AM
Reserve Bank of India-RBI

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India-RBI) (Photo Credit: IANS )

मुंबई :

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India-RBI) ने महाराष्ट्र के जालना जिले में मंता अर्बन कोआपरेटिव बैंक (Mantha Urban Co Operative Bank) पर धन के भुगतान और कर्ज के लेन देन को लेकर 6 महीने के लिए पाबंदी लगा दी है. केंद्रीय बैंक ने मंगलवार को एक विज्ञप्ति में बताया कि उसने इस बैंक को कुछ निर्देश दिए हैं, जो 17 नवंबर 2020 को बैंक बंद होने के बाद से छह माह तक प्रभावी होंगे.

यह भी पढ़ें: MCX पर आज कैसी रहेगी सोने-चांदी की चाल, यहां जानें एक्सपर्ट की राय

आरबीआई की अनुमति के बगैर कोई कर्ज या उधार नहीं दे सकेगा मंता अर्बन कोआपरेटिव बैंक
इन निर्देशों के अनुसार, यह बैंक आरबीआई की अनुमति के बिना कोई कर्ज या उधार नहीं दे सकेगा और न ही पुराने कर्जों का नवीनीकरण तथा कोई निवेश कर सकेगा. बैंक पर नयी जमा राशि स्वीकार करने पर भी पाबंदी लगा दी गयी है. वह कोई भुगतान भी नहीं कर सकेगा और ना ही भुगतान करने का कोई समझौता कर सकेगा.

यह भी पढ़ें: RBI का बड़ा फैसला, DBS Bank के साथ होगा लक्ष्मी विलास बैंक का विलय

डीबीएस इंडिया के साथ लक्ष्मी विलास बैंक के अधिग्रहण की योजना
इस पहले सरकार ने वित्तीय संकट से गुजर रहे निजी क्षेत्र के लक्ष्मी विलास बैंक पर एक महीने तक के लिए पाबंदियां लगा दी है. इसके तहत बैंक के खाताधारक ज्यादा से ज्यादा 25,000 रुपये तक की निकासी कर सकेंगे. इसके साथ ही सरकार ने डीबीएस इंडिया के साथ लक्ष्मी विलास बैंक के अधिग्रहण की योजना की भी घोषणा की. बैंक की खस्ता वित्तीय हालत को देखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की सलाह के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है.

First Published : 18 Nov 2020, 08:13:34 AM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो