News Nation Logo
Breaking
Banner

सीवी सेगमेंट की मांग में धीरे-धीरे आ रहा है सुधारः टाटा मोटर्स

ई-कॉमर्स क्षेत्र की मजबूत मांग के साथ-साथ केंद्र के त्वरित बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने से वाणिज्यिक वाहन (सीवी) खंड में धीरे-धीरे सुधार हुआ है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 23 Jan 2022, 11:35:52 AM
CV

माल ढुलाई और डीजल की दर में क्रमिक रूप से सुधार. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • माल ढुलाई और डीजल की दर में क्रमिक रूप से सुधार
  • बुनियादी ढांचा परियोजना के क्रियान्वयन में तेजी आई
  • टाटा मोटर्स के पास बाजार में सबसे बड़ा पोर्टफोलियो

नई दिल्ली:  

ई-कॉमर्स क्षेत्र की मजबूत मांग के साथ-साथ केंद्र के त्वरित बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने से वाणिज्यिक वाहन (सीवी) खंड में धीरे-धीरे सुधार हुआ है. ऑटोमोबाइल प्रमुख टाटा मोटर्स ने इसकी जानकारी दी है. विशेष रूप से कोविड-19 महामारी के चरम के दौरान यह सेगमेंट एक बड़ी गिरावट से गुजरा है. टाटा मोटर्स के कार्यकारी निदेशक गिरीश वाघ ने दूसरी लहर के बाद मांग में धीरे-धीरे सुधार का हवाला दिया. इसके अनुसार आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि के कारण सुधार शुरू हुआ, जिसने एक मजबूत ग्रामीण अर्थव्यवस्था के साथ-साथ वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री को प्रेरित किया है.

उन्होंने कहा, 'एफएमसीजी', 'एफएमसीडी', कृषि आपूर्ति और अन्य ई-कॉमर्स उत्पादों जैसे अंतिम-मील एप्लिकेशन्स में बढ़ी गतिविधि छोटे वाणिज्यिक वाहनों (एससीवी) और मध्यवर्ती और हल्के वाणिज्यिक वाहनों (आई एंड एलसीवी) में मांग में वृद्धि के लिए प्रमुख उत्प्रेरक रही है. एम एंड एचसीवी (मध्यम और भारी वाणिज्यिक वाहन) ने निर्माण, खनन और ई-कॉमर्स क्षेत्रों से मांग में धीरे-धीरे सुधार देखा है. मध्यम अवधि में भी, उन्होंने कहा कि निर्माण और ई-कॉमर्स क्षेत्र के विकास में पुनरुद्धार के कारण प्रवृत्ति जारी रहने की उम्मीद है.

इसके अलावा, उन्होंने निकट भविष्य में वाणिज्यिक वाहनों की मांग को बढ़ाने के लिए केंद्र की हाल ही में घोषित पहल जैसे स्क्रैपेज नीति और प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम (पीएलआई) का हवाला दिया. माल ढुलाई और डीजल की दर में क्रमिक रूप से सुधार हुआ है, जो माल परिवहन की मांग में पुनरुद्धार का संकेत देता है. हालांकि ट्रांसपोर्टर की लाभप्रदता अभी भी तनाव में हो सकती है. वाघ के अनुसार, बाजार की स्थिति में सुधार हो रहा है और कंपनी आशावादी है क्योंकि बुनियादी ढांचा परियोजना के क्रियान्वयन में तेजी आई है.

सरकार ने वित्त वर्ष 24 तक 102 लाख करोड़ रुपये की राष्ट्रीय अवसंरचना पाइपलाइन (एनआईपी) की घोषणा की और बुनियादी ढांचे पर तीव्र ध्यान देने के साथ वित्त वर्ष 22 के लिए कैपेक्स आवंटन में सालाना 26 प्रतिशत की वृद्धि शॉर्ट से मध्यम अवधि में एम एंड एचसीवी की वृद्धि का समर्थन करेगी. फिलहाल टाटा मोटर्स के पास बाजार में सबसे बड़ा पोर्टफोलियो है. इसने हाल ही में सेगमेंट में 21 वाहनों का अनावरण किया.

First Published : 23 Jan 2022, 11:35:52 AM

For all the Latest Auto News, Cars News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.