News Nation Logo

आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए मोबाइल फ्लैश लाइट का ना करें इस्तेमाल, जानें क्या है वजह

एस्ट्रोलॉजी की मानें तो इलेक्ट्रॉनिक गैजेट राहु को रिफ्लैक्ट करता है. हमें अभी राहु के एनर्जी को कम करना है. ऐसे में अगर आप मोबाइल के फ्लैश लाइट जलाते हैं तो राहु की एनर्जी कम नहीं होगी.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 05 Apr 2020, 06:12:25 PM
mobile flash light

मोबाइल के फ्लैश लाइट का 9 बजे ना करें प्रयोग (Photo Credit: प्रतिकात्मक फोटो)

नई दिल्ली :

पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार यानी आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइटें बंद करके दीये, मोमबत्ती, टॉर्च व मोबाइल फ्लैश चलाने का जो संदेश दिया है. देशवासी इसे लेकर तैयार भी है. हर जगह यह चर्चा हो रही है कि कौन क्या करने वाला है. पीएम मोदी के संदेश का आध्यात्मिक-ज्योतिष महत्व भी बताया गया है.

रात 9 बजे घर की तमाम लाइट ऑफ करते हुए अंधेरा करना है और फिर दीया , मोमबत्ती या टॉर्च या फिर मोबाइल का फ्लैश लाइट जलाने के लिए कहा गया है. अंधेरा करने के पीछे आध्यात्मिक वजह है. राहु, केतु और शनिगृह जिन्हें पापी प्रवृति का कहा जाता है, इन्हें शांत करना है. जब अंधेरा करके प्रकाश किया जाएगा तो यह पापी गृह पलायन कर जाएंगे.

9 नंबर मंगल का होता है जिसे मजबूत करना है

एस्ट्रोलॉजर की मानें तो 9 का जो नंबर होता है वो मंगल (Mars) का नंबर होता है. 9 बजे और 9 मिनट इसलिए कहा गया है कि मंगल दोहरा असर पैदा होगा.जब मंगल आप मजबूत करते हैं तो आपके अंदर चीजों से लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है. इतना ही नहीं आपके अंदर इम्यूनिटी पावर भी बढ़ता है. इसलिए दीया, कैंडल जलाए. लेकिन इलेक्ट्रॉनिक गैजेट का प्रयोग ना करे तो बेहतर है.

इसे भी पढ़ें:वाराणसी के धर्माचार्य और बीएचयू के ज्योतिष विभाग का दावा-मई तक खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस, जानें कैसे

इलेक्ट्रॉनिक गैजेट राहु का स्वामी होता है

एस्ट्रोलॉजी की मानें तो इलेक्ट्रॉनिक गैजेट राहु को रिफ्लैक्ट करता है. हमें अभी राहु के एनर्जी को कम करना है. ऐसे में अगर आप मोबाइल के फ्लैश लाइट जलाते हैं तो राहु की एनर्जी कम नहीं होगी. इससे बेहतर होगा कि आप घी, सरसो के तेल, तील के तेल का दीया जलाए. या फिर मोमबत्ती जलाए. इतना ही नहीं अगर आप दीया जलाते वक्त मंत्रों का प्रयोग करे तो इसका असर और ज्यादा होगा.

और पढ़ें:अंतिम संस्कार कराना है तो सैनिटाइजर ले जाना न भूलें

आज ही के दिन श्रीकृष्ण ने कालिया नाग का किया था अंत

ज्योतिषी की मानें तो आज ही के दिन भगवान श्रीकृष्ण ने यमुना में रहने वाले कालिया नाग का वध किया था. श्रीकृष्ण ने यह काम 9 मिनट में किया था. वायरस भी विषैले कालिया नाग का प्रतीक है. जब श्रीकृष्ण ने कालिया नाग का वध किया था तब अंधकार था. इसी तरह अंधकार में प्रकाश करके हमें कोरोना का खात्मा करना है. चलिए मिलकर हमसब दीया जलाए और एकता का परिचय दें.

For all the Latest Astrology News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 05 Apr 2020, 05:33:46 PM