News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

500 साल पुरानी भविष्यवाणी! इंसान नहीं सुधरा तो बर्बाद हो जाएगी दुनिया

इंसान लालच, छल कपट, धोके से बाज नहीं आया तो प्राकृतिक आपदाओं से दुनिया तहस नहस होकर खत्म हो जाएगी. तो आइये जानते हैं कि 500 साल पहले के ज्योतिषी नास्त्रेदमसने ने क्या भविष्वाणी की थी.

News Nation Bureau | Edited By : Nandini Shukla | Updated on: 29 Dec 2021, 07:21:41 PM
collage article

500 साल पुरानी भविष्वाणी (Photo Credit: Newsnation)

New Delhi:

साल 2021 खत्म होने वाला है और नए साल का आगमन होने वाला है. नए साल में क्या होगा कैसे होगा कोई नहीं जानता. वैसे ही साल 2022 में कब क्या होने वाला है इसका जवाब भी किसी के पास नहीं है. दुनिया का हर शख्स भविष्वाणी में झाकना चाहता है. हर शख्स जानना चाहता है कि उसकी जिंदगी में क्या होने वाला है और क्या होगा, ये जानने का इच्छुक रहता है. प्राकृतिक आपदाएं भी ऐसे ही होती हैं. कब क्या हो जाए किसी को नहीं पता होता. लेकिन क्या आप जानते हैं कि प्राकृतिक आपदायें की भविष्वाणी कई दशक पहले हो चुकी है. पहले की भविष्वाणी में कहा गया है कि अगर इंसान लालच, छल कपट, धोके से बाज नहीं आया तो प्राकृतिक आपदाओं से दुनिया तहस नहस होकर खत्म हो जाएगी. तो आइये जानते हैं कि 500 साल पहले के ज्योतिषी नास्त्रेदमस ने क्या भविष्वाणी की थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने 1555 में प्रकाशित अपनी प्रसिद्ध पुस्तक 'लेस प्रोफेटीज' में और 942 काव्यात्मक चौपाइयों के जरिए कई भविष्यवाणी की थी. 

यह भी पढ़ें- साल 2022 में इन राशियों की पलटेगी किस्मत, जानें आपकी राशि का क्या है हाल

रिपोर्ट्स और फ्रांसीसी ज्योतिषी नास्त्रेदमस ( Astrologer Nostradamus) की भविष्यवाणियों के अनुसार, दुनिया एक क्षुद्रग्रह के टकराने, बाढ़ और सूखे से पीड़ित हो जाएगी. महंगाई इतनी बढ़ेगी कि  भविष्य में बड़े पैमाने पर लोग भुखमरी के शिकार होंगे. माना जाता है कि नास्त्रेदमस ने ग्लोबल वार्मिंग और क्षुद्रग्रहों और यहां तक ​​​​कि एआई तकनीक के उदय से होने वाली तबाही को सैकड़ों साल पहले बता दिया था. 'कयामत के भविष्यवक्ता' फ्रांसीसी ज्योतिषी और चिकित्सक बाइबिल के ग्रंथों में उनकी भविष्यवाणियों में अकाल और दुःख की बातें की गई हैं. दुनिया को भुकमरी और राक्षसों का सामना  करना पड़  सकता है. नास्त्रेदमस की पुस्तक प्रकाशित होने के 400 से ज्यादा वर्षों बाद  उनका काम लोकप्रिय हुआ. आइए उनकी कुछ भविष्यवाणियों के बारें में जानते हैं की आने वाले साल में कौन सी आपदाओं का सामना इंसान को करना पड़ सकता है. 

ग्लोबल वार्मंग

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नास्त्रेदमस ने 1555 में भविष्यवाणी की थी कि समुद्र का पानी इतना खराब हो जाएगा कि बढ़ता तापमान समुद्र में मछलियों को जला देगा. उन्होंने यह  मनुष्य बारिश भी नहीं देख पायेगा. और जब दुनिया के अंत का समय आएगा तब बाढ़ आसक्ति है जो साड़ी दृष्टि को तहस नहस क्र देगी. और जब यह अंत में होगी, तो 'बड़ी बाढ़' आएगी जो राष्ट्रों को तबाह कर देगी. नास्त्रेदमस ने अपनी पुस्तक के एक अन्य खंड में यह भी लिखा है

यह सच हो रहा है

ये सच सबके सामने है की बीते वर्षों में दुनिया ने कई साड़ी प्राकृतिक आपदाएं देखि हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक प्राकृतिक आपदाएं  वर्षों में और ज्यादा तेज हो जाएँगी. जिसे कोड रेड का नाम दिया गया है. चेतावनी है कि अगले 20 वर्षों के भीतर पृथ्वी के 1.5C गर्म होने की संभावना है. वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया था कि 2027 और 2052 के बीच तापमान स्तर से 1.5C ऊपर बढ़ जाएगा, लेकिन अब विश्वास है कि यह इस साल 2026 तक यह काम हो जायेगा. रिपोर्ट्स की माने तो पिछले पांच साल 1850 के बाद से धरती सबसे गर्म पायी गई है. 

यह भी पढ़ें- कहीं आप भी तो नहीं कर रहे शनि देव को नाराज़, इस तरह के काम करना पड़ सकता है भारी

क्षुद्रग्रह धरती से टकराएगा

ज्योतिषी नास्त्रेदमस ने भविष्वाणी की थी की आने वाले साल में आसमान से एक  गिरेगा उस दिन सृष्टि पूरी नष्ट हो जाएगी। 
 दुनिया का हर एक शख्स भुकमरी, छीना छपती में विलीन रहेगा. यहाँ भविष्वाणी साल 1555 में की थी कि पृथ्वी एक क्षुद्रग्रह से टकराएगी, जिससे सामूहिक मृत्यु होगी. 

मुद्रास्फीति के कारण बड़े पैमाने पर भुखमरी

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एक खंड में, नास्त्रेदमस ने लिखा: गेहूं की कीमत इतनी अधिक होगी कि हड़कंप मच जाए/आदमी रोने बिलकने लगेगा. ऐसा प्रतीत होता है कि नास्त्रेदमस यह सुझाव दे रहे हैं कि मानव जाति कभी नहीं सीखेगी न सुधरेगी , और कीमतों में वृद्धि जारी रहेगी - इतना अधिक कि बहुत से लोग भूख से मर रहे होंगे. 

2021 में दुनिया भर में, देशों ने राजनीतिक अस्थिरता देखी है, कोरोनोवायरस महामारी और गैस की बढ़ती कीमतों के कारण लोगों के पास धन की कमी और ज्यादा हो गयी है. लोग छल कपट का इस्तेमाल करने लगे हैं. एक दुसरे के साथ जूठ बोलकर काम करने लगे हैं. गाड़ियां, बिल्डिंग्स इतनी बनने लगी है की पेड़ों को नष्ट करने लगे हैं इन सब से प्रकृति को नुक्सान जो हुआ है उसका हर्जाना दुनिया को नष्ट होकर चुकाना पड़ेगा. बता दें कि तालिबान के शासन के बाद अफगानिस्तान भी भारी भुकमरी से जूझ रहा है. 

एआई प्रौद्योगिकी का चमत्कार 

नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने कृत्रिम बुद्धिमत्ता के आने की भविष्यवाणी की थी. प्रौद्योगिकी पिछले कुछ दशकों में इस हद तक बढ़ी है कि यह जानना कठिन है कि निकट भविष्य में क्या विकास होगा, लेकिन नास्त्रेदमस ने सुझाव दिया कि एआई प्रौद्योगिकी के उदय के माध्यम से मनुष्य 'अमर' बन सकता है. 

यह भी पढ़ें- Dattatreya Jayanti 2021: भगवान दत्तात्रेय की बात है कुछ खास, जानें पूजा विधि, मुहूर्त और जन्म कथा

रिपोर्ट्स के मुताबिक दुनिया ने पहले ही टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क को यह बतातेहुए देखा कि कंपनी अगले साल एक ह्यूमनॉइड रोबोट लॉन्च करेगी, जिसे वहां इस्तेमाल किया जाएगा जहां मनुष्य का काम करना अख्तर हो या मनुष्य का ज्यादा काम हल्का करने में वह रोबोट काम आ सके.

HIGHLIGHTS :

  • दुनिया का हर शख्स भविष्वाणी में झाकना चाहता है.
  • प्राकृतिक आपदायें की भविष्वाणी कई दशक पहले हो चुकी है.
  • ज्योतिषी नास्त्रेदमस की भविष्वाणी
  • कंपनी अगले साल एक ह्यूमनॉइड रोबोट लॉन्च करेगी

First Published : 29 Dec 2021, 02:09:43 PM

For all the Latest Astrology News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.