News Nation Logo
Banner

Jharkhand Poll: वो 5 सीटें जहां बीजेपी के खिलाफ अपने ही ठोक रहे हैं ताल

Jharkhand Poll: महाराष्ट्र में चुनाव पूर्व शिवसेना के साथ गठबंधन के बाद झटका खाई भारतीय जनता पार्टी झारखंड चुनाव में बिना गठबंधन के लगभग उतर चुकी है. राज्य की कुल 81 सीटों में बीजेपी अब तक 71 सीटों पर उम्मीदवार उतार चुकी है.

By : Dalchand Kumar | Updated on: 18 Nov 2019, 12:46:40 PM
Jharkhand Poll: वो 5 सीटें जहां बीजेपी के खिलाफ अपने ही ठोक रहे ताल

Jharkhand Poll: वो 5 सीटें जहां बीजेपी के खिलाफ अपने ही ठोक रहे ताल (Photo Credit: फाइल फोटो)

रांची:

Jharkhand Poll: महाराष्ट्र में चुनाव पूर्व शिवसेना के साथ गठबंधन के बाद झटका खाई भारतीय जनता पार्टी झारखंड चुनाव में बिना गठबंधन के लगभग उतर चुकी है. राज्य की कुल 81 सीटों में बीजेपी अब तक 71 सीटों पर उम्मीदवार उतार चुकी है. ऐसे में बिना गठबंधन इस चुनाव में बीजेपी अच्छी सफलता के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती. बीजेपी की सभी सहयोगी पार्टियों जनता दल यूनाइटेड (जदयू), लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) और ऑल झारखंड स्टूडेंट यूनियन (आजसू) इस बार भगवा पार्टी से अलग अकेले चुनावी मैदान में उतर रही हैं.

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: कांग्रेस बोली- बीजेपी के 'नकारेपन' के चलते झारखंड जीतेंगे

बीजेपी के साथ मिलकर बिहार में सरकार चला रहा जदयू जहां अकेले चुनावी मैदान में उतर गई है, वहीं राजग की घटक लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) भी सीट बंटवारे से नाराज होकर 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुकी है. इधर, झारखंड में 19 सालों तक बीजेपी के साथ चली ऑल झारखंड स्टूडेंट यूनियन (आजसू) से भी बीजेपी की दोस्ती लगभग खत्म ही हो गई है. बीजेपी की तीनों ही सहयोगी पार्टियां कई सीटों पर अपने उम्मीदवारों का एलान भी कर चुकी है. कुछ सीटों पर तो स्थिति ये हो गई है कि बीजेपी के सामने उसी के सहयोगी दल ताल ठोक रहे हैं.

लोहरदगाः इस सीट पर पहले चरण में 30 नवंबर को चुनाव होना है. यहां से बीजेपी ने कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत को अपना उम्मीदवार बनाया है. जिसके खिलाफ उसी की सहयोगी आजसू पार्टी ने नीरू शांति और जदयू ने दीपक उरांव को टिकट दिया है. हालांकि इस सीट पर मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पार्टी के बीच है. कांग्रेस ने यहां से मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव पर अपना दांव लगाया है. जबकि झाविमो ने पवन तिग्गा को मैदान में उतारा है.

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: सबसे 'हॉट सीट' रांची में बीजेपी से भिड़ेगी झामुमो

बिश्रामपुरः इस सीट पर बीजेपी ने मौजूदा विधायक और मंत्री रामचंद्र चन्द्रवंशी पर दांव लगाया है. यहां से रामचंद्र दो बार विधायक रह चुके हैं. जबकि रामचंद्र का मुकाबला बीजेपी की सहयोगी पार्टी लोजपा के शशिरंजन धर दूबे और जदयू के ब्रह्मदेव प्रसाद से होगा. कांग्रेस ने पूर्व मंत्री चंद्रशेखर दूबे को अपना उम्मीदवार बनाया है.

भवनाथपुरः यहां बीजेपी उम्मीदवार भानू प्रताप शाही के खिलाफ बिहार में उसकी सहयोगी जदयू ने शंकुतला जायसवाल को अपना उम्मीदवार घोषित किया है. जबकि कांग्रेस ने के.पी. यादव को मैदान में उतारा है तो वहीं झाविमो के टिकट पर रेखा चौबे ताल ठोक रही हैं.

यह भी पढ़ेंः Jharkhand Poll: जमशेदपुर पूर्व सीट पर कांग्रेस और बीजेपी में होगी कांटे की टक्कर

सिंदरीः इस सीट पर चौथे चरण में 16 दिसंबर को चुनाव होना है. यहां से बीजेपी ने इंद्रजीत महतो को अपना उम्मीदवार बनाया है, जिसके विरोध में आजसू ने सदानंद महतो और लोजपा ने शैलेंद्र द्विवेदी को उतारा है. झाविमो ने यहां से रमेश साही को टिकट दिया है.

पांकीः यहां पर बीजेपी प्रत्याशी शशिभूषण महतो के खिलाफ लोजपा ने रामदेव प्रसाद यादव और जदयू ने सुशील कुमार मंगलम को खड़ा किया है. हालांकि यहां पर कांग्रेस और बीजेपी के बीच मुख्य मुकाबला है. कांग्रेस ने देवेंद्र सिंह बिट्टू को अपना उम्मीदवार घोषित किया है.

यह भी पढ़ेंः न्यायमूर्ति रवि रंजन ने झारखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ ली

उल्लेखनीय है कि झारखंड में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी 63 सीटों पर चुनाव लड़ी थी और आजसू 40 ने सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे. बीजेपी 31.3 फीसदी वोट के साथ 37 सीटें जीतने में कामयाब रही थी और उसकी सहयोगी आजसू  3.7 फीसदी वोट के साथ 5 सीटें जीती थी. जबकि लोजपा को पिछले चुनाव में एक सीट मिली थी, जिस पर भी वो हार गई थी.  2014 में जदयू ने कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. बता दें कि राज्य में 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक पांच चरणों में चुनाव होगा। मतगणना 23 दिसंबर को होगी.

यह वीडियो देखेंः 

First Published : 18 Nov 2019, 10:33:45 AM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.